उत्तर प्रदेश नोएडा स्टेडियम में 32वां फ्लावर शो शुरू, प्राधिकरण के चेयरमैन भी मानते है की विकास के लिए प्रकृति की अनदेखी ठीक नहीं |

नोएडा प्राधिकरण और हार्टिकल्चर सोसायटी के तत्वावधान में शुक्रवार को नोएडा स्टेडियम में 32वें फ्लावर शो का उद्घाटन नोएडा प्राधिकरण के चेयरमैन और मुख्य कार्यपालक अधिकारी आलोक टंडन ने किया।

ICN टीम, नॉएडा
Last updated: 24 February 2018 | 12:06:00

 नोएडा प्राधिकरण और हार्टिकल्चर सोसायटी के तत्वावधान में शुक्रवार को नोएडा स्टेडियम में 32वें फ्लावर शो का उद्घाटन नोएडा प्राधिकरण के चेयरमैन और मुख्य कार्यपालक अधिकारी आलोक टंडन ने किया। इस अवसर पर उपस्थितलोगो को सबोधित करते हुए कहा की विकास और आबादी का दबाव प्राकृतिक संसाधनों पर पड़ता है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि विकास रोक दिया जाए। विकास समय की जरूरत है। इसके साथ ही हमें प्रकृति और पर्यावरण को बचाने के लिए भी ठोस उपाय करने होंगे, हम उनकी अनदेखी नहीं कर सकते। तीन दिवसीय फ्लावर शो में कुल 80 स्टॉल लगाए गए हैं। इनमें 45 प्रतिष्ठानों ने अपने फूलों की प्रदर्शनी लगाई है।  


 फ्लावर शो के उद्घाटन नोएडा प्राधिकरण के चेयरमैन और सीईओ आलोक टंडन लाल फीता काट कर किया। जिस तरह से फ्लैट कल्चर और प्रदूषण  बढ़ रहा है। उसे लेकर भी नोएडा एथॉरटी के अधिकारी चितित नजर आएं। उनका कहना था कि प्रकृति में जीवन जीने का अनुभव है। यदि हम इससे बच्‍चो को महरूम कर देगे तो वे भी इस कांक्रीट के शहर की तरह शुष्‍क हो जायेगे। मशीनी तरीके से काम करेगे कोमल भावनाए नही होगी। इसलिए इस बार ऐसे पौधे भी उपलब्ध होंगे जो प्रदूषण कम करने में सहायक है  इसके साथ वर्टिकल गार्डन की योजना भी बनाई जा रही है। शहर में हरियाली बढ़ाने के लिए सड़क किनारे की कच्ची पटरियों पर प्लांटेशन और इंटरलॉकिंग के काम की शुरुआत करने की योजना बनाई जा रही है, ताकि शहर के लोगों को धूल से राहत मिल सके।


 तनाव से मन और भागदौड से टूटते तन ताजगीदेती फूलो की प्रदर्शनी में आने वाले हर व्यक्ति के चेहरे पर  खुशी उभर रही है। कैतुक और उत्‍सुकता से लोग प्रदर्शनी में फूलों के साथ महज 2 फुट लंबाई के बोन साई पौधे निहारते वही गमले में लगाए हुए कैक्टस यानि कांटों वाले प्लांट को देखने के लिए लोगो की भीड़ लगी है।

इस प्रदर्शनी में खूबसूरत फूल और उनकी सजावट लोगों के आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। जिन्हे सीपीडब्ल्यूडी, हीरो मोटोकॉप, कुमार मंगलम बिड़ला, एलजी, भारत पेट्रोलियम, दिल्ली पब्लिक स्कूल, एवीआई और एडोब जैसे संस्थानो की विकसीत और परदर्शित किया गया है। प्रदर्शनी का समापन 25 फरवरी को होगा।

Write Your Own Review

Customer Reviews

अन्य खबरे