बिहार : चंपारण में प्रधानमंत्री मोदी, सुपरफास्ट ट्रेन को दिखाएंगे हरी झंडी

1917 में महात्मा गांधी ने चम्पारण में ही ब्रिटिश शासन का पहली बार विरोध करते हुए सत्याग्रह की शुरुआत की थी. किसानों से जबरन नील की खेती करने वाले अंग्रेजी शासन के आदेश के विरोध में यह सत्याग्रह शुरू हुआ था

इण्डिया, कोर न्यूज़ टीम पटना Last updated: 10 April 2018 | 12:18:00

 बिहार : चंपारण में प्रधानमंत्री मोदी, सुपरफास्ट ट्रेन को दिखाएंगे हरी झंडी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज बिहार के मोतीहारी में चंपारण सत्याग्रह के शताब्दी समापन समारोह के अवसर पर देश भर में होने वाले कार्यक्रम से जुड़ेंगे और स्वच्छाग्रहियों को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री मोदी इस मौके पर मोतीहारी में 20,000 स्व्च्छा ग्रहियों और स्वाच्छता दूतों को संबोधित करेंगे.

चंपारण सत्याग्रह’ के सौ साल पूरे होने के उपलक्ष्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चंपारण में विभिन्न योजनाओं का शुभारंभ करेंगे. प्रधानमंत्री ने इस दिन को `सत्याग्रह से स्वच्छग्रह` के रूप में मानने के लिए `चलो चंपारण` अभियान शुरू किया था. स्वच्छ भारत मिशन के तहत काम करने वाले देशभर से स्वच्छाग्रही बिहार पहुंच रहे हैं.

 

गौरतलब है कि साल 1917 में महात्मा गांधी ने चम्पारण में ही ब्रिटिश शासन का पहली बार विरोध करते हुए सत्याग्रह की शुरुआत की थी. किसानों से जबरन नील की खेती करने वाले अंग्रेजी शासन के आदेश के विरोध में यह सत्याग्रह शुरू हुआ था. किसानों को ब्रिटिश सरकार जबरन 15 प्रतिशत भू—भाग पर नील की खेती करने के लिए बाध्य कर रही थी, और 20 में से 3 कट्टे की फसल किसानों द्वारा यूरोपीय निलहों को देना होता था, जिसे तिनकठिया प्रथा कहा जाता था. 100 साल पूरा होने के मौके पर पिछले साल यानी 10 अप्रैल 2017 को चंपारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह की शुरुआत की गई थी. अब इस समारोह का समापन प्रधानमंत्री मोदी करेंगे. इस कार्यक्रम का नाम दिया गया है ‘सत्याग्रह से स्वच्छाग्रह.’

आपको बता दे देशभर के करीब 20 हजार स्वच्छाग्रही इस कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए चंपारण पहुंच रहे हैं. इतना ही नहीं ये स्वच्छाग्रही बिहार के विभिन्न जिलों में लोगों को जागरूक करने का भी काम कर रहे हैं. इन से प्रधानमंत्री 10 स्वच्छाग्रहियों को मंच से सम्मानित करेंगे. यूनिसेफ द्वारा एक कार्यक्रम में 3 अप्रैल को दिल्ली में `चलो चंपारण` अभियान की शुरूआत की थी. बता दें कि यूनिसेफ भारत में स्वच्छता पर बड़े स्तर पर काम कर रहा है.

Write Your Own Review

Customer Reviews

अन्य खबरे