बिहार पूर्व मुख्यमंत्री मांझी ने भारत बंद को बताया जायज कहा सुप्रीम कोर्ट अपने आदेश पर पुनर्विचार करें

मांझी ने माननीय उच्चतम न्यायालय से आग्रह किया है कि उनके द्वारा दिए गए आदेश को लोगों की भावना को देखते हुए स्वत संज्ञान लेते हुए उस आदेश पर पूर्ण विचार करने की अपील की है |

इंडिया, कोर न्यूज़ टीम पटना Last updated: 02 April 2018 | 18:59:00

बिहार पूर्व मुख्यमंत्री मांझी ने भारत  बंद को बताया जायज कहा सुप्रीम कोर्ट  अपने आदेश पर पुनर्विचार करें

हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (से.) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने दलितों के मुद्दे पर माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा दिए गए आदेश के विरोध में दलित समाज के लोगों द्वारा भारत बंद को पूरी तरह सफल करार दिया है |

मांझी के नेतृत्व में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वह पूर्व मंत्री वृषिण पटेल के साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक रविंद्र राय, राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ दानिश रिजवान, अनुसूचित जनजाति के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी एल वैश्यन्त्री, प्रदेश प्रवक्ता प्रो विजय यादव, महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष अनामिका पासवान, मोहम्मद मसूद रजा, रामविलास प्रसाद, सुभाष सिंह चंद्रवंशी बलमा बिहारी, आशीष कुमार सिंह, अंजनी पटेल, अनिल रजक, राजेश्वर मांझी, रामचंद्र रावत, हेमलता पासवान, अभिषेक मिश्रा, आदि नेताओं ने पटना के डाक बंगला चौराहे पर हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा सेकुलर की ओर से बंद का समर्थन किया और सड़क पर उतरकर आम लोगों से भारत बंद को शांतिपूर्ण रूप से मनाने की अपील की |


मांझी ने माननीय उच्चतम न्यायालय के द्वारा दिए गए आदेश को पुनर्विचार हेतु लोगों की अपार जनसमर्थन के कारण भारत बंद को लोगों के मिले समर्थन को देखते हुए माननीय उच्चतम न्यायालय से आग्रह किया है कि उनके द्वारा दिए गए आदेश को लोगों की भावना को देखते हुए स्वत संज्ञान लेते हुए उस आदेश पर पूर्ण विचार करने की अपील की है |

मांझी ने कहा कि हम दलित मुद्दे पर किसी भी सूरत में समझौता नहीं करेंगे | हम उनकी हित की रक्षा के लिए सदैव सड़क से सदन तक उतरने को तैयार हैं और उनकी अनदेखी हम कभी बर्दाश्त नहीं कर सकते इसके लिए मुझे जो सजा मिलेगी मैं उसे स्वीकार कर लूंगा | आज इस आदेश के बाद देश में सबसे ज्यादा अगर पीड़ित और आक्रांत अगर कोई समाज है वह दलित समाज है |

Write Your Own Review

Customer Reviews

सबसे तेज़

अन्य खबरे