छात्रों के लिए खुशखबरी एक फॉर्म भरिए, और किसी भी कॉलेज में पढ़िए

आनंद किशोर ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी कि इंटर और स्नातक स्तरीय पाठ्यक्रमों में आगामी शैक्षणिक सत्र से विद्यार्थी कॉलेज में एडमिशन के लिए ऑनलाइन फार्म भर सकेंगे। इसके लिए छात्र वसुधा केंद्र, घर के कंप्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल से फॉर्म भर सकेंगे।

इंडिया, कोर न्यूज़ टीम डेस्क Last updated: 14 April 2018 | 18:05:00

छात्रों के लिए खुशखबरी एक फॉर्म भरिए, और किसी भी कॉलेज में पढ़िए

कॉलेज में एडमिशन के लिए अब छात्रों को कॉलेज-दर-कॉलेज भटकना नहीं होगा। विद्यार्थी घर बैठे-बैठे ऑनलाइन एडमिशन फार्म भरेंगे और जिस कॉलेज में चाहेंगे, वहां एडमिशन ले सकेंगे। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति एक वेबसाइट बना रही है `ऑनलाइन फैसिलिटेशन सिस्टम फॉर स्टूडेंट` (ओएफएसएस)। वेबसाइट दो महीने में काम करने लग जाएगी। शुक्रवार को बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में बुलाई गई बैठक में ओएफएसएस से संबंधित प्रजेंटेशन दिया।

आनंद किशोर ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी कि इंटर और स्नातक स्तरीय पाठ्यक्रमों में आगामी शैक्षणिक सत्र से विद्यार्थी कॉलेज में एडमिशन के लिए ऑनलाइन फार्म भर सकेंगे। इसके लिए छात्र वसुधा केंद्र, घर के कंप्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल से फॉर्म भर सकेंगे। अलग-अलग कॉलेज के चक्कर लगाने से तो छात्र बचेंगे ही साथ ही उन्हें अलग-अलग कॉलेज के फार्म के लिए पैसे भी नहीं खर्च करने होंगे।

उन्हें ऑनलाइन फैसिलिटेशन सिस्टम फॉर स्टूडेंट वेबसाइट पर अपने पसंदीदा कॉलेज के फार्म भरना होगा। कॉलेज या विश्वविद्यालय द्वारा कट ऑफ माक्र्स जारी करने के साथ ही बोर्ड छात्रों की मेरिट लिस्ट तैयार कर लेगा और इसके बाद विद्यार्थी को यह जानकारी हो जाएगी कि उसके माक्र्स के आधार पर उनका एडमिशन किस कॉलेज या विवि में हुआ है।

मुख्यमंत्री ने बोर्ड के इस कदम की सराहना करते हुए कहा कि यह अच्छी व्यवस्था है। इससे डाटा संग्रहण और चीजों को अपडेट करने में सहूलियत होगी। इसके साथ ही छात्रों को बेवजह होने वाली परेशानियों से छुटकारा भी मिल जाएगा। बोर्ड अध्यक्ष ने उन्हें आश्वस्त किया कि उनका प्रयास रहेगा कि इस व्यवस्था को आगामी शैक्षणिक सत्र से ही प्रभावी बना दिया जाए।

बैठक में शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, मुख्यसचिव अंजनी कुमार सिंह, प्रधान सचिव शिक्षा आरके महाजन, राज्यपाल के प्रधान सचिव विवेक कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, मनीष वर्मा, गोपाल सिंह समेत दूसरे कई पदाधिकारी मौजूद रहे। 








courtesy- dainik jagran 

Write Your Own Review

Customer Reviews

अन्य खबरे