अर्जित शाश्वत की जमानत को लेकर हाई कोर्ट में याचिका दायर कल होगी सुनवाई

अरिजीत शाश्वत के पिता और केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने आरोप लगाया कि विपक्षी पार्टियों की ओर से यह गलत एफआईआर दर्ज करवाई गई

ICN टीम, नॉएडा
Last updated: 02 April 2018 | 12:56:00

अर्जित शाश्वत की जमानत को लेकर हाई कोर्ट में याचिका दायर कल होगी सुनवाई

बिहार के भागलपुर में हुए उपद्रव मामले में अर्जित शाश्वत ने एफआईआर खारिज करने की मांग को लेकर पटना हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है पुलिस ने पटना रेलवे स्टेशन के बाहर महावीर मंदिर से शनिवार रात अर्जित को गिरफ्तार कर उनको 14 दिनों की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया गया. शाश्वत के वकीलों ने सोमवार यानी आज अतिरिक्त सचिव के कोर्ट में जमानत के लिए अर्जी लगाई है. जिसपर मंगलवार को सुनवाई होगी.

वहीं अरिजीत शाश्वत के पिता और केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने आरोप लगाया कि विपक्षी पार्टियों की ओर से यह गलत एफआईआर दर्ज करवाई गई है. जब अर्जित की अग्रिम जमानत की खारिज हो गई तो कोर्ट का सम्मान करते हुए उन्होंने खुद ही सरेंडर कर दिया. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वो केंद्र और राज्य सरकार से किसी भेदभाव के जांच कराने की मांग करते हैं.

शाश्वत ने आरोप लगाया कि हमारे जैसे राष्ट्रभक्तों और जयश्रीराम बोलने वाले भाजपा कार्यकर्ता और आरएसएस के स्वयंसेवक उस शोभा यात्रा में शामिल थे. उनकी मंशा भारत माता की जय और वंदे मातरम कहने की थी. हमने कोई गलत काम नहीं किया है. उन्होंने पूछा कि भारत माता की जय और जय श्रीराम तथा वंदे मातरम बोलना क्या अपराध की श्रेणी में आता है. 

शाश्वत ने पत्रकारों से कहा कि वह कह चुके हैं कि वह न्यायलय के शरण में हैं और न्यायालय के शरण में गया हुआ व्यक्ति कहीं भागता नहीं है. अब वह उच्च न्यायालय का दरवजा खटखटाएंगे. उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री (नीतीश कुमार) सहित प्रदेश के तमाम आलाधिकारियों को पत्र के माध्यम से 22 मार्च को सूचित कर दिया था कि नव वर्ष के शोभा यात्रा के बीत जाने के बाद नाथनगर थाना का रवैया बिल्कुल असंतोषजनक और आपत्तिजनक रहा है.








photo credit - MH One News

Write Your Own Review

Customer Reviews

अन्य खबरे