बिहार टॉपर घोटाले में ED ने कार्यवाही करते हुए मुख्य आरोपी बच्चा राय की 4.5 करोड़ की संपत्ति जब्त की

बच्चा राय छात्रों से पैसे वसूलकर उन्हें परीक्षा में टॉप कराता था। इसके बदले वह मोटी रकम लेता था और उसने इससे करोड़ों की संपत्ति बना ली थी

इंडिया, कोर न्यूज़ टीम पटना Last updated: 31 March 2018 | 14:18:00

बिहार टॉपर घोटाले में ED  ने कार्यवाही करते हुए मुख्य  आरोपी बच्चा राय की 4.5 करोड़ की संपत्ति जब्त की

बिहार टॉपर घोटाला मामले में ईडी ने में बड़ी कार्रवाई करते हुए घोटाले के मास्टरमांइड बच्चा राय की साढे चार करोड रुपये से अधिक की संपत्ति अटैच की है। बच्चा राय के साथ ही ईडी ने उसके परिजनों की सपंति भी अटैच की है। 2016 में इस मामले को लेकर पूरी बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर सवाल उठा था जिसके बाद सियासी तूफान खड़ा हो गया था

आप को बता दे की बच्चा राय छात्रों से पैसे वसूलकर उन्हें परीक्षा में टॉप कराता था। इसके बदले वह मोटी रकम लेता था और उसने इससे करोड़ों की संपत्ति बना ली थी और उसने इससे करोड़ों की संपत्ति बना ली थी। घोटाले से पर्दा उठने पर कई दिनों की लुकाछिपी के बाद 2016 के 11 जून को बच्चा राय ने सरेंडर कर दिया था. इसी साल हुए टॉपर घोटाले के केंद्र में रूबी राय नाम की छात्रा थी जिसे ठीक से अपने विषयों के नाम तक नहीं आते थे.

इसके बाद इंडमीडिएट से जुड़ा एक और घोटाला सामने आए थे जिसके केंद्र में गणेश कुमार नाम का छात्र था. जिस साल राज्य के 65% प्रतिशत बच्चे इस परीक्षा में फेल हुए थे उस साल के टॉपर गणेश को गणेश कुमार ने 12वीं में संगीत और गृह विज्ञान जैसे विषयों का चयन किया था. गणेश को सबसे ज्यादा 83 नंबर संगीत में ही मिले हैं

बच्चा राय की संपत्तियां -

पुलिस की पूछताछ के दौरान बच्चा राय अपनी संपत्ति खरीदने के लिए लाए गए पैसों का श्रोत नहीं बता पाया था। बच्चा राय के पास अभी कुल 29 प्लाट हैं जिन्हें जब्त किया जाएगा। उसकी संपत्ति की बात करें तो उसमें हाजीपुर, भगवानपुर और महुआ में है प्लाट हैं।

साथ ही उसका हाजीपुर का दो मंजिला मकान भी है जिसे अटैच किया जाएगा। इसके साथ ही पटना का एक फ्लैट भी अटैच होगा। इसके साथ ही लगभग दस बैंक खाते अटैच किए गए हैं। बच्चा राय के ट्रस्ट की जांच जारी है। बता दें कि इस घोटाले के उजागर होने के बाद आरोप सही पाए जाने पर बच्चा राय को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था और अभी वह जेल में ही है।

Write Your Own Review

Customer Reviews

सबसे तेज़

अन्य खबरे