ATM कार्ड पर लगी किसकी नजर? कोई आपके खाते में सेंध तो नहीं लगा रहा? जानिए सच

साथ ही पूरे एटीएम में भी नजर डाल कर देख ले कोई ऐसा कैमरा फिट तो नहीं जो एटीएम पिन दर्ज करते वक्त आपके पिन की रिकॉर्डिग कर रहा हो क्योंकि जालसाज एटीएम मशीन में रिकॉर्डिंग चिप और कैमरा लगा कर आपको चपत लगा सकती है.

इंडिया, कोर न्यूज़ टीम दिल्ली Last updated: 11 August 2018 | 11:49:00

ATM कार्ड पर लगी किसकी नजर? कोई आपके खाते में सेंध तो नहीं लगा रहा? जानिए सच

आप अक्सर फिल्मों में तो बैंकों और एटीएम में चोरी और उसके प्लानिंग को खूब एन्जॉय करते है, लेकिन अगर असल जिंदगी में ये बैंक एटीएम चोर आपके रुपए को उड़ाकर आपको चुना लगा दे तो आप हो सकते हैं परेशान! अगर आप एटीएम या डेबिट कार्ड से अपने खून-पसीने से कमाए रुपए निकालने जा रहे हैं तो आप हो जाइए सावधान!

जी हां, ये सवाल उठ रहे हैं इस वायरल वीडियो से. इस वीडियो में दिखाया जा रहा है कि कैसे जालसाज टेक्नोलॉजी का फायदा उठाकर आपके पैसे एटीएम से उड़ा लेता है. वायरल हुए इस वीडियो में बताया जा रहा है कि कैसे स्कीमर और एटीएम जालसाज आपके मेहनत की कमाई को चुटकी में गायब कर सकते हैं.

जालसाजों का एक ऐसा तरीका जिसे देख कर आप हैरान रह जाएंगे. आपकी आंख खुली की खुली रह जाएगी. वीडियो में दिख रहा शख्स एक बैंक का तकनीकी स्टाफ है जो बता रहा है कि किस तरह जालसाज स्किमिंग डिवाइस के दो पार्ट्स एटीएम में लगा देते हैं.


ये जालसाज पहला डिवाइस एटीएम कार्ड रीडर के ऊपर लगा देते हैं जो दिखने में हुबहु ओरिजिनल कार्ड रीडर जैसा ही दिखता है. फिर दूसरे डिवाइस को एटीएम के की पैड के ठीक ऊपर चिपका देते हैं. जहां हम सभी पैसा निकालते वक्त अपने एटीएम के पिन दर्ज करते है.


इसी डिवाइस में पहले से कैमरा, मेमोरी कार्ड और चिप लगा हुआ रहता है. जैसे ही हम एटीएम को कार्ड रीडर में डालते हैं उस वक्त पहला वाला डिवाइस आपके कार्ड को स्कैन कर लेता है. पिन डालते वक्त दूसरा डिवाइस आपके पिन को कैमरे से रिकॉर्ड कर लेता है.

तो क्या वाकई एटीएम कार्ड के डिटेल को स्कैन किया जा सकता है. हमने इस वीडियो का वायरल टेस्ट किया. हमने इस वीडियो को लेकर बैंक के अधिकारियों और साइबर के विशेषज्ञ पवन दुग्गल से बात की. उन्होंने हमें बताया, `वीडियो में दिखाई गई सभी बातें सही हैं, और ऐसे मामले अब धीरे-धीरे बढ़ते जा रहे हैं, कार्ड की क्लोनिंग और आपके 4 अंकों के पिन को चुराने का काम अब आम बात हो गई और लोगों में जागरुकता के अभाव के चलते ऐसी घटनाएं गंभीर रूप लेती जा रही है, भारत में साइबर क्राइम को लेकर अभी सरकार गंभीर नहीं है यही कारण है कि अपराधियों के हौसले बुलंद हो गए हैं.`

ऐसे मामलों में दंडात्मक कार्यवाई की जरूरत है, लोगों को एटीएम मशीन से पैसे निकालते समय सावधानी बरतने की जरूरत है.

साइबर एक्सपर्ट्स भी कहते हैं कि आप जब भी बैंक एटीएम जाएं तो सबसे पहले कार्ड रीडर और एटीएम पिन दर्ज करने वाले किपैड को थोड़ा हिला डुला कर देख ले कि कहीं ये किसी टेप से या ग्लू से चिपका हुआ तो नहीं, कोई कैमरा तो नहीं लगा है.

साथ ही पूरे एटीएम में भी नजर डाल कर देख ले कोई ऐसा कैमरा फिट तो नहीं जो एटीएम पिन दर्ज करते वक्त आपके पिन की रिकॉर्डिग कर रहा हो क्योंकि जालसाज एटीएम मशीन में रिकॉर्डिंग चिप और कैमरा लगा कर आपको चपत लगा सकती है.

ऐसे में सावधानी ही बचाव है. इसके साथ ही वायरल टेस्ट में एटीएम में जालसाजी की आशंका वाली ये खबर हमारे वायरल टेस्ट में पास हो गई.

 

 

 

 

credit by aajtak 

Write Your Own Review

Customer Reviews

सबसे तेज़

अन्य खबरे