रूस का अमेरिका पर पलटवार , 60 राजनयिकों को बहार कर बंद करेगा दूतावास

अमेरिका के राष्ट्रपति भवन व्हाइट हाउस ने रूस के इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए आज कहा कि उसके 60 राजनयिकों को निष्कासित करने और सेंट पीटर्सबर्ग में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास को बंद करने का आदेश द्विपक्षीय संबंधों को बिगाड़ने वाले हैं |

इण्डिया, कोर न्यूज़ टीम दिल्ली Last updated: 29 March 2018 | 11:54:00

रूस का अमेरिका पर पलटवार , 60 राजनयिकों को बहार कर बंद करेगा दूतावास

 रूस के विदेश मंत्री सर्जेई लावरोव ने कहा कि मास्को अमेरिका के 60 राजनयिकों को देश से बाहर करेगा और सेंट पीर्ट्सबर्ग में इसके वाणिज्य दूतावास को भी बंद करेगा. जासूस को जहर देने के मामले में अमेरिका और रूस के बीच तकरार बढ़ता ही जा रहा है. पहले अमेरिका ने रूस के 60 राजनयिकों को देश से निकाला था. अब अमेरिका पर पटलवार करते हुए रूस ने भी अपने देश से यूएस के राजनयिकों को बाहर निकालने का फैसला किया है. रूस के विदेश मंत्री सर्जेई लावरोव ने कहा कि मास्को अमेरिका के 60 राजनयिकों को निष्कासित करेगा और सेंट पीर्ट्सबर्ग में इसके वाणिज्य दूतावास को भी बंद करेगा. 


अमेरिका के राष्ट्रपति भवन व्हाइट हाउस ने रूस के इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए आज कहा कि उसके 60 राजनयिकों को निष्कासित करने और सेंट पीटर्सबर्ग में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास को बंद करने का आदेश द्विपक्षीय संबंधों को बिगाड़ने वाले हैं. व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने कहा, ‘‘ कि अमेरिकी राजदूत को जवाबी कार्रवाई के बारे में सूचित कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि इसमें समान संख्या में राजनयिकों का निष्कासन और सेंट पीर्ट्सबर्ग में अमेरिकी महावाणिज्य दूतावास को बंद करने का हमारा निर्णय शामिल है.   

गौरतलब है कि रूस ने बदले की कार्रवाई करते हुए अमेरिका के 60 राजनयिकों को सात दिन के भीतर देश छोड़ने और 48 घंटों के भीतर सेंट पीटर्सबर्ग वाणिज्य दूतावास को बंद करने के लिए कहा है. सैंडर्स ने कहा, ‘‘अमेरिका और 24 से अधिक देशों के अलावा नाटो सहयोगियों द्वारा इस सप्ताह रूस के अघोषित खुफिया अधिकारियों को निकालना ब्रिटेन की सरजमीं पर रूस के हमला का उचित जवाब था.’’ सैंडर्स ने कहा कि रूस की प्रतिक्रिया ‘अप्रत्याशित नहीं’ है और अमेरिका इससे ‘निपट’ लेगा.

इस हमले के लिए ब्रिटेन रूस को जिम्मेदार ठहराता है. स्क्रिपल (66) और उनकी बेटी यूलिया (33) हमले के बाद से ब्रिटेन के एक अस्पताल में भर्ती हैं, उनकी हालत गंभीर बनी हुई है. मास्को ने इन आरोपों से इनकार किया है. अमेरिका के अलावा यूरोपीय संघ के 14 देशों और यूक्रेन ने भी ऐसा करने के संकेत दिए हैं. कनाडा ने रूस के चार राजयनिकों के निष्कासन का आदेश दिया और तीन अन्य को परिचय पत्र देने से इनकार कर दिया. ब्रिटेन रूस के 23 राजनयिकों को पहले ही निष्कासित कर चुका है. 

 

 

photo credit dw.com

Write Your Own Review

Customer Reviews

अन्य खबरे