नोएडा :- स्टेप बाई स्टेप स्कूल का लंच खाकर 25 से ज्यादा बच्चे बीमार ,प्रशाशन ने कार्यवाही के दिए आदेश

मैनजेमेंट ने बिना नॉएडा प्रसाशन को बताये आनन- फानन में प्राइवेट स्कूल की एम्बुलेंस को स्कूल में बुला कर बच्चो का इलाज कराना शुरू कर दिया। जिसके बाद बच्चो के परिजनों को जानकारी दी गयी।

इंडिया, कोर न्यूज़ टीम नोएडा Last updated: 05 April 2018 | 21:16:00

दिल्ली से सटे नॉएडा सेक्टर 132 में स्थिति स्टेप बाई स्टेप स्कूल में फ़ूड पॉइजनिंग का मामला साम आया है। आप को बता दे कि स्कूल के द्वारा दिए जाने वाले ब्रेक फ़ास्ट को खाने से करीब 25 बच्चो की तबियत बिगड़ने के साथ पेट में दर्द और वाईमेटिंग होने लगी। स्कूल मैनजेमेंट ने बिना नॉएडा प्रसाशन को बताये आनन- फानन में प्राइवेट स्कूल की एम्बुलेंस को स्कूल में बुला कर बच्चो का इलाज कराना शुरू कर दिया। जिसके बाद बच्चो के परिजनों को जानकारी दी गयी।

नॉएडा के अलग अलग निजी हॉस्पिटल में बच्चो को भर्ती कराया गया जहा पर बच्चो का इलाज चल रहा है। इसमें से 7 बच्चो का इलाज जेपी अस्पताल में कराया जा रहा है। जिसकी रिपोर्ट में साफ़ फ़ूड पॉइजनिंग की रिपोर्ट आई है। वही सुचना पाकर मौके पर पहुंचा नॉएडा प्रसाशन के अधिकारियो को स्कूल ने अंदर नहीं घुसने दिया। डीएम गौतमबुद्ध नगर ने स्कूल के खिलाफ कार्यवाही के आदेश के आदेश दे दिए है।

नॉएडा में मोटी मोटी फीस लेकर बच्चो के स्वास्थ के साथ खिलवाड़ कर रहे है। नॉएडा के सेक्टर 132 में स्थिति स्टेप बाय स्टेप स्कूल का नया कारनामा सामने आया है। स्कूल के द्वारा दिए गए नाश्ते में खराबी होने के कारण लगभग 25 बच्चे की तबियत बिगड़ती देख आनन- फानन में मैक्स हॉस्पिटल के डॉक्टरों की टीम बुलाई और उनको उपचार के लिए भर्ती करा दिया जिसके बाद अभिभावकों को सुचना दी। घटना की सुचना पाकर नॉएडा सिटी मजिस्ट्रेट, फ़ूड अधिकारी स्कूल पहुंचे लेकिन स्कूल प्रशासन उन्हें अंदर नहीं घुसने दिया। जिसके बाद डीएम नॉएडा बीएन सिंह ने स्कूल के खिलाफ कार्यवाही करने की बात कहते हुए नजर आए।


वही सिटी मजिट्रेट ने बताया कि उन्हें सुचना मिली कि कुछ बच्चो को जेपी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है, तो वो वहां बच्चो से मिले और डॉक्टरों की रिपोर्ट देखी, उसके बाद इन्होने बताया कि यहां 7 बच्चो को भर्ती कराया गया है, और डॉक्टरों की रिपोर्ट में साफ़ फ़ूड पॉइजनिंग का मामला सामने आया है।

 

Write Your Own Review

Customer Reviews

सबसे तेज़

अन्य खबरे