घाटी में हमले का हाई अलर्ट, अवंतीपोरा और श्रीनगर एयरबेस को निशाना बना सकते हैं आतंकी

जम्मू-कश्मीर के कुछ हिस्सों में एक बार फिर आतंकी हमले का अलर्ट जारी है. ताजा इंटेलिजेंस इनपुट के अनुसार आतंकी लगातार घाटी में दहशत फैलाने के अपने मंसूबों को कामयाब करने में जुटे हैं.

इंडिया, कोर न्यूज़ जम्मू कश्मीर Last updated: 17 May 2019 | 10:56:00

घाटी में हमले का हाई अलर्ट, अवंतीपोरा और श्रीनगर एयरबेस को निशाना बना सकते हैं आतंकी

जम्मू-कश्मीर के कुछ हिस्सों में एक बार फिर आतंकी हमले का अलर्ट जारी है. ताजा इंटेलिजेंस इनपुट के अनुसार आतंकी लगातार घाटी में दहशत फैलाने के अपने मंसूबों को कामयाब करने में जुटे हैं. इस बार उनका निशाना श्रीनगर और अंवतीपोरा एयरबेस हो सकता है. इसी खतरे को देखते हुए पूरी घाटी में सुरक्षा एजेंसियों को हाई अलर्ट पर रखा गया है.

सरकार के सूत्रों की मानें, तो बीते कई दिनों से आतंकी घाटी में हमला करने का प्लान कर रहे हैं. इनपुट के अनुसार, आतंकियों के निशाने पर वायुसेना के एयरबेस हैं जिसकी वजह से सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हैं. और सुरक्षा को लेकर कोई भी कोताही नहीं बरती जा रही है.आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में बीते कुछ दिनों में आतंकियों के साथ मुठभेड़ की संख्या बड़ी है, ऐसे में खतरा सिर्फ सरहद पार वाले आतंकियों से नहीं बल्कि घाटी में मौजूद आतंकियों से भी है. गुरुवार को ही पुलवामा में एक भीषण मुठभेड़ हुई थी, जिसमें तीन आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया गया था.

कश्मीर में सुरक्षाबल आतंकियों के खात्मे के लिए पहले से ही ऑपरशेन ऑलआउट चला रहे हैं, जिसके तहत इसी साल सैकड़ों आतंकियों को मौत के घाट उतारा जा चुका है.

जम्मू-कश्मीर में 14 फरवरी को हुए पुलवामा के आतंकी हमले के बाद से ही अलर्ट है, उसके बाद से ही आतंकी लगातार घात लगाने की कोशिश कर रहे हैं. 14 फरवरी को जो आतंकी हमला हुआ था उसमें CRPF के 40 जवान मारे गए थे. इसी के बाद से ही भारत लगातार अलर्ट पर है और आतंकियों पर नज़र बनाए हुए है.

पुलवामा आतंकी हमले के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के संबंधों में तनाव बरकरार है, पहले पुलवामा में आतंकी हमला हुआ और बाद में भारत ने बालाकोट में एयरस्ट्राइक की, जिसमें जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर हमला किया गया था.

 

 

 

credit by: aaj tak 

Write Your Own Review

Customer Reviews

सबसे तेज़

अन्य खबरे