आज से आईपीएल 2018 का आगाज , ओपनिंग सेरेमनी में कई स्टार बिखेरेंगे जलवा

आईपीएल उद्घाटन समारोह को दुनियाभर में देखा जाएगा और इसके बाद ही आईपीएल का पहला मैच खेले जाएगा।

इंडिया, कोर न्यूज़ टीम डाक Last updated: 07 April 2018 | 11:33:00

आज से आईपीएल 2018  का आगाज , ओपनिंग सेरेमनी में कई स्टार बिखेरेंगे जलवा

आईपीएल फैन्स  का इंतजार आज हो गया  खत्म , IPL-11 का आगाज आज  से होने जा रहा है। उद्घाटन समारोह शनिवार को शाम छह बजकर 15 मिनट पर शुरू होगा. उद्घाटन मैच से पहले रंगारंग समारोह होगा, जिस में ऋतिक रोशन, वरुण धवन और मशहूर डांसर प्रभु देवा के डांस से  शुरुआत की जायगी 

उद्घाटन समारोह में इस बार काफी कुछ खास होने वाला है और माना जा रहा है कि इस बार का उद्घाटन समारोह पिछली बार के मुकाबले से भी अच्छा और शाननदार होगा। आईपीएल उद्घाटन समारोह को दुनियाभर में देखा जाएगा और इसके बाद आईपीएल का पहला मैच खेला जाएगा।


आइपीएल का पहला मुकाबला मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम पर ओपनिंग सेरेमनी के साथ आईपीएल का बिगुल बजेगा और उसके बाद मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच मैच खेला जाना है।

पहले यह कार्यक्रम अलग से गुरुवार को होना था लेकिन सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति के इसके बजट को कम करने के फैसले के कारण इसे पहले मैच से पूर्व करने का निर्णय लिया गया।

पांच साल पहले इस टी-20 फॉर्मेट ने स्पॉट फिक्सिंग और गैरकानूनी सट्टेबाजी को बढ़ावा दिया, जिसकी परिणति दो साल पहले चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स फेंचाइजियों पर प्रतिबंध के रूप में हुई। हालांकि इसके बावजूद इन सालों में आइपीएल न केवल बचा रहा बल्कि उसने तरक्की भी की। आइपीएल के पांच साल के प्रसारण अधिकार स्टार इंडिया ने 16,000 करोड़ रुपये से ज्यादा में खरीदे हैं। यह करार दिखाता है कि आइपीएल कितना बड़ा ब्रांड है।


इस बार के उद्घाटन समारोह में सिर्फ 2 टीमों के कप्तान मौजूद रहेंगे। ये वो कप्तान होंगे जिनका मैच समारोह के बाद खेला जाएगा। मतलब रोहित शर्मा और एम एस धोनी के अलावा कोई और कप्तान उद्घाटन समारोह का हिस्सा नहीं होगा।


मुंबई में हुए आईपीएल रिटेंशन पालिसी में हमने देखा कि कैसे चैन्नई सुपर किंग्स ने धोनी, सुरेश रैना और रवींद्र जडेजा की तिकड़ी को बरकरार रखा. रैना, जो आईपीएल इतिहास में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं उन्होंने अपने फ्रैंचाइज़ी के लिए हमेशा बेहतर प्रदर्शन किया है. दूसरी तरफ अगर विरोधियों के स्कोरिंग दर पर रोक लगानी हो तो धोनी के लिए जडेजा हमेशा पहले विकल्प रहें हैं. तो वहीं सीएसके ने अंत में राइट टू मैच कार्ड का सही उपयोग करते हुए ड्वेन ब्रावो को वापस लाइन- अप में शामिल कर लिया. अंतिम ओवरों की अगर बात करें तो ब्रावो चेन्नई की तरफ से दूसरी टीमों के लिए हमेशा घातक साबित हुए हैं. दिलचस्प बात ये है कि रैना, जडेजा और ब्रावो ने इन दो सालों में एक साथ ही ड्रेसिंग रूम को साझा किया जब तीनों खिलाड़ी गुजरात लायंस का हिस्सा थे.

Write Your Own Review

Customer Reviews

सबसे तेज़

अन्य खबरे