नौकरी दिलाने के नाम पर सिपाही ने आठ लाख रुपये ठगे

लखनऊ, (जेएनएन)। पुलिस लाइन में तैनात सिपाही दयाराम ने जौनपुर के बेरोजगार कृष्ण कांत मिश्र से आठ लाख रुपये ऐंठ लिए।

इंडिया, कोर न्यूज़ टीम लखनऊ Last updated: 03 November 2018 | 13:29:00

नौकरी दिलाने के नाम पर सिपाही ने आठ लाख रुपये ठगे

लखनऊ, (जेएनएन)। पुलिस लाइन में तैनात सिपाही दयाराम ने जौनपुर के बेरोजगार कृष्ण कांत मिश्र से आठ लाख रुपये ऐंठ लिए। सिपाही ने उसे एफसीआइ में नौकरी दिलाने की बात कहकर फर्जी नियुक्तिपत्र तक दे दिया था। महानगर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

जौनपुर केराकत निवासी कृष्ण कांत मिश्र के मुताबिक पुलिस लाइन में तैनात सिपाही दयाराम उनके गांव का रहने वाला है। कुछ समय पहले उससे लखनऊ में मुलाकात हुई थी। उसने अपने अच्छी सेटिंग का हवाला देते हुए फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया में नौकरी दिलाने की बात कही। इसके एवज में उसने आठ लाख रुपये ले लिए और फर्जी नियुक्तिपत्र भी दे दिया। वह लखनऊ स्थित ऑफिस में ज्वाइन करने पहुंचा तो पता चला कि नियुक्तिपत्र फर्जी है। इसके बाद उसने दयाराम से मुलाकात कर मामले की जानकारी दी तो वह टाल मटोल करने लगा। रुपये मांगे तो दयाराम धमकाने लगा।

उसने थाने पहुंचकर तहरीर दी तो पुलिस ने टरका दिया। पीडि़त ने मामले की जानकारी एसएसपी कलानिधि नैथानी को दी। इसके बाद आरोपित के खिलाफ महानगर थाने में रिपोर्ट दर्ज की गई। पीडि़त का आरोप है कि दयाराम ने कुछ साल पहले गांव में रहने वाले शैलेश और उसके साथी को भी नौकरी दिलाने के नाम पर 12 लाख रुपये ठग लिए थे।

 

 

 

 

credit by: jagran 

Write Your Own Review

Customer Reviews

सबसे तेज़

अन्य खबरे