UP: CM आवास के सामने रेप पीड़िता का आत्मदाह का प्रयास ,दूसरे दिन पिता की संदिग्ध मौत

भाजपा विधायक पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला ने रविवार दोपहर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास के पास परिवार के साथ पहुंचकर आत्मदाह करने की कोशिश की थी

इण्डिया, कोर न्यूज़ टीम लखनऊ Last updated: 09 April 2018 | 12:58:00

UP: CM आवास के सामने रेप पीड़िता का आत्मदाह का प्रयास ,दूसरे दिन पिता की संदिग्ध मौत

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में स्थित सीएम आवास पर परिवार समेत आत्महत्या करने पहुंची महिला के रेप केस में एक और बड़ी घटना घटी है। उन्नाव की इस महिला ने रविवार को सीएम आवास के सामने आत्महत्या करने की कोशिश की थी। महिला ने उन्नाव के बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर गैंगरेप का आरोप लगाया था। इस घटना के सिर्फ एक दिन बाद महिला के पिता की संदिग्ध मौत हो गई है।

उन्नाव के बांगरमऊ से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई जय सिंह पर आरोप था कि 4 अप्रैल को उसने अपने गुंडों के साथ पीड़ित पप्पू उर्फ सुरेंद्र की बेरहमी से पिटाई की थी. इसकी शिकायत के बावजूद पुलिस ने विधायक का नाम एफआईआर से हटा दिया था. पुलिस ने आरोपियों के साथ मिलकर पप्पू को ही मारपीट के जुर्म मे जेल भेज दिया था.

पीड़ित महिला के पिता की जेल में संदिग्ध स्थिति में मौत हो गई है। महिला और उसके परिवार का आरोप है कि विधायक के इशारे पर ही उसके पिता की हत्या हुई है। महिला ने एक दिन पहले ही उन्नाव से बीजेपी के विधायक कुलदीप सेंगर और उनके लोगों पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था। महिला का कहना है कि पिछले एक साल से वो इंसाफ के लिए दर-दर भटक रही है लेकिन जब कहीं सुनवाई नहीं हुई तो सुसाइड ही आखिरी रास्ता बचा था।

भाजपा विधायक पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला ने रविवार दोपहर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास के पास परिवार के साथ पहुंचकर आत्मदाह करने की कोशिश की थी. पुलिसकर्मियों ने किसी तरह सबको काबू में किया, फिर सभी को गौतमपल्ली थाने लेकर पहुंची. महिला का आरोप है कि विधायक की शिकायत करने के बावजूद पुलिस उन पर कार्रवाई नहीं कर रही है.

वहीं दूसरी ओर डॉक्टर का कहना है कि एक व्यक्ति की मौत आज (9 अप्रैल) सुबह हुई. उन्नाव के जिला अस्पताल के डॉक्टर अतुल ने बताया, `पेट दर्द और उल्टी की शिकायत के बाद व्यक्ति को देर रात अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सुबह उसकी मौत हो गई. व्यक्ति को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया था.`

इस मामले में लखनऊ जोन के एडीजी राजीव कृष्ण ने बताया कि पीड़ित महिला ने विधायक सेंगर पर गंभीर आरोप लगाए हैं. शुरुआती जांच में पता चला है कि महिला के परिवार और दूसरे पक्ष का करीब 10-12 साल से विवाद चल रहा है. उन्होंने बताया कि केस लखनऊ ट्रांसफर कर दिया गया है. पुलिस मामले की जांच करेगी उसके बाद ही सच्चाई सामने आ पाएगी.

साथ ही महिला ने कहा था कि उसे विधायक के लोगों की तरफ से धमकियां मिलती रहती हैं हालांकि पूरे मामले को विधायक कुलदीप सेंगर साज़िश बता रहे हैं और निष्पक्ष जांच की मांग कर रहे हैं वहीं पुलिस का कहना है कि शुरूआती जांच में पता चला है कि दस 12 सालों से दोनों पक्षों के बीच झगड़ा चल रहा है जबकि महिला की शिकायत के मुताबिक उसके साथ दुष्कर्म पिछले साल जून में हुआ है। अब दोनों मामलों की जांच लखनऊ ट्रांसफर कर दी गई है। इस पूरे मामले की विस्तृत जानकारी जुटाई जा रही है।

 

 

pic Rediff.com

Write Your Own Review

Customer Reviews

सबसे तेज़

अन्य खबरे