नौकरी के बहाने ऐंठे 50 हजार, रुपये वापस करने के लिए बुलाकर किया गैंगरेप

लखनऊ, जेएनएन। सरकारी विभाग में संविदा पर नौकरी दिलाने के बहाने चार युवकों ने एक युवती से पहले 50 हजार रुपये ऐंठ लिए। उसके बाद भुगतान के नाम पर उसे बुलाया और कार से ले जाकर आरोपित ने अपने तीन अन्य साथियों के साथ शहीदपथ पर उसके साथ गैंग रेप किया।

इंडिया, कोर न्यूज़ टीम लखनऊ Last updated: 13 April 2019 | 12:04:00

नौकरी के बहाने ऐंठे 50 हजार, रुपये वापस करने के लिए बुलाकर किया गैंगरेप

लखनऊ, जेएनएन। सरकारी विभाग में संविदा पर नौकरी दिलाने के बहाने चार युवकों ने एक युवती से पहले 50 हजार रुपये ऐंठ लिए। उसके बाद भुगतान के नाम पर उसे बुलाया और कार से ले जाकर आरोपित ने अपने तीन अन्य साथियों के साथ शहीदपथ पर उसके साथ गैंग रेप किया। पीडि़ता की तहरीर पर विभूतिखंड पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। वहीं, पड़ताल में पता चला कि दोनों पक्षों में पुराना विवाद है।


ये है पूरा मामला

इंस्पेक्टर विभूतिखंड राजीव द्विवेदी के मुताबिक, मलिहाबाद क्षेत्र की रहने वाली युवती (25) का आरोप है कि चार माह पूर्व क्षेत्र में रहने वाले बबलू ने उसे सरकारी विभाग में नौकरी दिलाने का झांसा दिया। इस बावत उसने 50 हजार रुपये भी ऐंठ लिए। उसने दो माह के अंदर नौकरी लगवाने की बात कही थी। लेकिन नौकरी नहीं लग सकी। जब रुपयों की मांग की गई तो वह टाल मटोल करने लगा। बीते गुरुवार को रुपये देने के बहाने विजयीपुर अंडर पास के पास बुलाया। वहां से कार से शहीदपथ ले गया। कार में बबलू के अलावा काशी प्रसाद, डीपी गुप्ता और हरीश भी थे।


शहीदपथ पर चारों ने रेप किया। उसके बाद उसे धमकाते हुए तेलीबाग में छोड़कर भाग निकले। किसी तरह वह घर पहुंची और परिवारीजनों को घटना की जानकारी दी। इसके बाद विभूतिखंड थाने पहुंचकर चारों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। इंस्पेक्टर ने बताया कि आरोपितों की तलाश की जा रही है। इस संबंध में मलिहाबाद पुलिस से बात की गई तो वहां से पता चला कि युवती का भाई वर्ष 2017 में बबलू के परिवार की एक लड़की को भगा ले गया था। उसका मुकदमा चल रहा है। दोनों पक्षों में पुराना विवाद है। मामले की जांच की जा रही है।

 

 

 

 

credit by: jagran

Write Your Own Review

Customer Reviews

सबसे तेज़

अन्य खबरे