पानी लेने गई किशोरी से तीन युवकों ने किया सामूहिक दुष्कर्म का प्रयास

देहरादून, जेएनएन। थाना सहसपुर अंतर्गत एक गांव में आंगन की तरफ पानी लेने गई 16 साल की किशोरी को तीन युवक घर के पास निर्माणाधीन मकान में ले गए।

इंडिया, कोर न्यूज़ टीम देहरादून Last updated: 20 June 2019 | 10:37:00

पानी लेने गई किशोरी से तीन युवकों ने किया सामूहिक दुष्कर्म का प्रयास

देहरादून, जेएनएन। थाना सहसपुर अंतर्गत एक गांव में आंगन की तरफ पानी लेने गई 16 साल की किशोरी को तीन युवक घर के पास निर्माणाधीन मकान में ले गए। जहां युवकों ने किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म का प्रयास किया। इसी बीच किशोरी के परिजन तलाशते वहां पहुंचे तो आरोपितों परिजनों से मारपीट की और फरार हो गए। परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने तीनों आरोपितों के खिलाफ पोक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने आरोपितों की धरपकड़ को युवकों के घरों पर छापे मारे, लेकिन तीनों फरार मिले।

जानकारी के अनुसार थाना सहसपुर के एक गांव में देर रात 16 साल की किशोरी पानी लेने के लिए अपने घर के आंगन में गई। पहले से ताक में बैठे गांव के ही तीन युवक अजीम पुत्र मुस्तकीम, अमजद पुत्र भूरा व नदीम पुत्र मोबिन ने किशोरी का मुंह दबा लिया और उसे खींचकर पास के निर्माणाधीन मकान में ले गए। जहां पर तीनों युवकों ने किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म का प्रयास किया। 

किशोरी के वापस न लौटने पर उसकी मां ने बाहर आंगन में देखा तो वह नहीं दिखी। इस पर परिजन उसको तलाशते हुए घर के पास ही निर्माणाधीन मकान में पहुंचे। जहां पर तीन युवक किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म का प्रयास करते हुए दिखे। 

 

किशोरी के परिजनों को देखकर तीनों मारपीट करते हुए भाग खड़े हुए। परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने तीनों के खिलाफ पोक्सो एक्ट में में मुकदमा दर्ज किया गया है। दारोगा विनोद कुमार के अनुसार आरोपितों की तलाश की जा रही है।

मासूम से छेडख़ानी का आरोप

 

डालनवाला कोतवाली क्षेत्र में चार साल की मासूम से छेड़-छाड़ का मामला सामने आया है। छेड़छाड़ का आरोपित भी नाबालिग है। उसकी उम्र करीब 11 साल बताई जा रही है। एसपी सिटी श्वेता चौबे ने बताया कि मामला मंगलवार का है। पुलिस को जानकारी दी गई थी, लेकिन तब लिखित में कोई शिकायत नहीं की गई थी। बुधवार देर रात बच्ची के माता-पिता डालनवाला कोतवाली पहुंचकर मामले में कार्रवाई करने की बात कही गई है। 

स्कूली वाहनों में छात्राओं से छेड़छाड़ का आरोप

 

स्कूली बसों में परिचालकों द्वारा छात्राओं के साथ छेड़छाड़ करने की शिकायत आई है। उत्तराखंड बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने शिकायत का संज्ञान लेते हुए परिवहन उपायुक्त को उक्त स्कूल के वाहनों में सुरक्षा संबंधी मानकों की जांच के आदेश दिए हैं।

आयोग की अध्यक्ष ऊषा नेगी ने बताया कि आयोग को अभिभावक की ओर से शिकायत मिली है। जिसमें द पॉली किड्स स्कूल के वाहनों में छात्राओं की सुरक्षा का ध्यान न रखने का आरोप लगाया है। आरोप है कि बस के परिचालक लगातार बदले जाते रहते हैं और उनका छात्राओं के साथ व्यवहार भी सही नहीं रहता। कई बार वह छेड़छाड़ भी करने लगते हैं, लेकिन स्कूल प्रबंधन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। 

 

बताया कि परिवहन उपायुक्त को मामले की जांच कर 15 दिनों के भीतर रिपोर्ट से अवगत कराने को कहा गया है। इसमें वाहनों में सुरक्षा संबंधी मानकों की जांच शामिल है।

 

 

 

 

credit by: jagran

Write Your Own Review

Customer Reviews

सबसे तेज़

अन्य खबरे