पाक पर अमेरिका का बड़ा वार , हाफिज शहीद की पार्टी MML को आतंकी संगठन घोषित किया

अमेरिकी सरकार ने एमएमएल पॉलीटिकल पार्टी और उनके सात सदस्यों को भी विदेशी आतंकवादी घोषित किया है

इंडिया, कोर न्यूज़ टेस्म डेस्क Last updated: 03 April 2018 | 15:09:00

पाक पर अमेरिका का बड़ा वार  , हाफिज शहीद की पार्टी MML को आतंकी संगठन घोषित किया

पाकिस्तान में आम चुनाव से ठीक पहले अमेरिका ने मुंबई हमले के मास्टरमाइंड और जमात-उद-दावा सरगना को अमेरिका ने करारा झटका दिया है. हाफिज सईद मिल्ली मुस्लिम लीग( एमएमएल) को एक विदेशी आतंकवादी संगठन घोषित कर दिया है. एमएमएल मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद के नेतृत्व वाले आतंकवादी संगठन जमात- उद दावा का राजनीतिक मोर्चा है.यानि अब हाफिज सईद की राजनीतिक पार्टी मिल्ली मुस्लिम लीग अमेरिका की उन आतंकवादी संगठनों की लिस्ट में शामिल हो गई है, जिस पर अमेरिका बड़ी कार्रवाई कर सकता है

अमेरिकी सरकार ने एमएमएल के साथ ही इसके सात सदस्यों को भी विदेशी आतंकवादी घोषित किया है. 2 अप्रैल को तहरीक- ए- आजादी- ए- कश्मीर( टीएजेके) को भी आतंकवादी समूहों की सूची में शामिल किया है. टीएजेके को लश्कर- ए- तैयबा का एक मोर्चा बताया जाता है, जो कि ट्रंप सरकार के अनुसार पाकिस्तान मेंबिना किसी रोक टोक के अपनी गतिविधियों का अंजाम दे रहा है.


एमएमएल को नहीं मिला राजनीतिक दल का दर्जा

आप को बता दें कि हाफिज सईद पाकिस्तान की सक्रिय राजनीति में उतरने की कोशिश कर रहा है. एमएमएल पाकिस्तान में चुनाव लड़ सके, इसलिए हाफिज ने चुनाव आयोग में पंजीकरण के लिए आवेदन दिया था, हालांकि यह आयोग ने यह आवेदन खारिज कर दिया था. इससे पहले 23 मार्च को एमएमएल ने लाहौर में अपना घोषणापत्र भी जारी किया था. चुनाव आयोग ने बेशक से हाफिज की पार्टी का पंजीकरण करने से मना कर दिया था, लेकिन इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने हाफिज की राजनीति में आने के रास्ते साफ कर दिए हैं.


सेल्स ने कहा, कृपया आप दिग्भ्रमित ना हों और उन सभी कदमों का समर्थन करता है. लश्कर-ए-तैयबा चाहे कोई भी नाम बदल ले, वह हमेशा हिंसक आतंकवादी संगठन ही रहेगा. अमेरिका , जो यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हिंसा का रास्ता पूरी तरह छोड़ने तक लश्कर-ए-तैयबा को कोई राजनीतिक मंच/आवाज ना मिले.

Write Your Own Review

Customer Reviews

अन्य खबरे